मुख्यमंत्री राजे ने प्रदेश के आराध्य श्री कल्याणजी महाराज के दर्शन किए

सबको साथ लेकर चलने वाली राजस्थान सरकार की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने आज बुधवार को प्रदेश में श्रद्धा के प्रमुख केंद्र टोंक जिले के डिग्गी स्थित कल्याण जी महाराज के दर्शन किए। मुख्यमंत्री ने कल्याण जी महाराज के मंदिर में पूजा-अर्चना कर प्रदेश की शान्ति और खुशहाली एवं सुख-समृद्धि की कामना की। मुख्यमंत्री ने मंदिर में राजस्थान सरकार की ओर से ध्वज चढ़ाकर, कल्याण जी महाराज की आरती की। इसके बाद मुख्यमंत्री राजे ने मंदिर की परिक्रमा की। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सुबह जल्दी ही जयपुर से डिग्गी कल्याण जी के लिए रवाना हो गई थी। जब मुख्यमंत्री राजे वहां पहुंची तो स्थानीय निवासियों और दर्शन के लिए आए यात्रियों की भीड़ लग गई। प्रदेशवासियों को अपनी चहेती मुख्यमंत्री को देखने के बाद ख़ुशी की एक अनोखी अनुभूति महसूस हुई। राजस्थान के इस पावन और पूज्य धाम पर मुख्यमंत्री राजे को देखकर जन-जन का मन प्रफुल्ल हो उठा। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को डिग्गीपुरी स्थित कल्याण जी महाराज मंदिर ट्रस्ट ने प्रसाद दिया और कल्याण जी  महाराज का चित्र भेंट किया।

प्रतिवर्ष आयोजित होता है लक्खी मेला:

राजस्थान के टोंक ज़िले में स्थित डिग्गीपुरी कल्याण जी महाराज के मंदिर में प्रतिवर्ष श्रद्धालुओं की ओर से पदयात्रा का आयोजन किया जाता है। देश और प्रदेश के लाखों श्रद्धालुजन इस अवसर पर भगवान् विष्णु के अवतार श्री कल्याण जी के दर्शन के लिए आते हैं। अनेकों श्रद्धालु पैदलयात्रा कर मंदिर तक आते हैं। भक्तजन अपनी श्रद्धा से सेवाकार्य भी करते हैं।

राजस्थान के नवनियुक्त पुलिस महानिदेशक से मुलाक़ात की:

डिग्गीपुरी स्थित कल्याण जी महाराज के दर्शन करने के बाद मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने प्रदेश के नवनियुक्त पुलिस महानिदेशक अजीत सिंह शेखावत से मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने डी.जी. अजीत सिंह जी के राजकीय निवास पर उनसे बातचीत की। मुख्यमंत्री ने अजीत सिंह को डी.जी. पद पर नियुक्त होने पर बधाई दी। डी.जी. मनोज भट्ट के रिटायर होने के बाद नियुक्त हुए पुलिस महानिदेशक अजीत सिंह से मुख्यमंत्री राजे ने शिष्टाचार भेंट की।