जयपुर में अब एक ही छत के नीचे होंगे विदेश मंत्रालय के सभी कार्यालय

राजस्थान की राजधानी जयपुर स्थित भारतीय विदेश मंत्रालय के सभी कार्यालय अब एक ही छत के नीचे होंगे। केन्द्र सरकार ने इसके लिए मंजूरी भी दे दी है। झालाना डूंगरी स्थित पासपोर्ट कार्यालय की बिल्डिंग अब विदेश मंत्रालय का केन्द्रीय कार्यालय होगा। इसका नाम भी बदलकर विदेश भवन रखा जाएगा। इससे पहले अगस्त माह में मुंबई में भी विदेश मंत्रालय के सभी कार्यालयों को एक ही छत के नीचे लाने का काम किया गया। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इस विदेश भवन का उद्घाटन किया था।

passport office jaipur

                      जयपुर में अब एक ही छत के नीचे होंगे विदेश मंत्रालय के सभी कार्यालय.

प्रदेशवासियों को विदेश मंत्रालय के काम के लिए अब दिल्ली नहीं जाना पड़ेगा

विदेश मंत्रालय के काम के लिए अब तक राजस्थान के लोगों को नई दिल्ली का चक्कर लगाना पड़ता था लेकिन अब प्रदेशवासियों को नई दिल्ली के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। भारत सरकार का विदेश मंत्रालय जयपुर के पासपोर्ट कार्यालय को विदेश भवन की तर्ज पर डवलप कर रहा है। यहां पर विदेश मंत्रालय के सभी कार्यालय एक ही छत के नीचे होंगे। विदेश भवन में सभी विभागों के आने के साथ ही कई सुविधाओं का दायरा भी बढ़ जाएगा। भारतीय विदेश मंत्रालय राज्यों में निकटवर्ती क्षेत्रों में सुविधा प्रदान करने की पहल कर रहा है। इसी के तहत जयपुर में संचालित किए जा रहे पासपोर्ट कार्यालय सहित अन्य सभी कार्यालयों को भी विदेश भवन में लाया जा रहा है।

Read More: बॉक्सर विजेन्द्र सिंह की अगली फाइट जयपुर में, घाना के अर्नेस्ट अमुजू से भिडेंगे

जयपुर में इनको मिलेगा सुविधाओं का फायदा: जयपुर के बिजनेसमैन, अरब देशों में काम करने वाले श्रमिकों, विदेश में पढ़ने जाने वाले स्टूडेंट्स समेत आम लोगों के विदेश मंत्रालय से जुड़े कामों में इस सुविधा का फायदा होगा। जल्द ही जयपुर मुख्यालय के लिए एक निदेशक स्तर के अधिकारी नियुक्ति भी की जाएगी। अब विदेश भवन में बजाज नगर से इंडियन काउंसिल ऑफ कल्चरल रिलेशन, सीतापुरा से ब्यूरो ऑफ इमीग्रेशन और पासपोर्ट कार्यालय से जुड़े सभी कार्य संचालित किए जाएंगे। इसलिए ही इसका नाम विदेश भवन किया जा रहा है। आने वाले समय में उपलब्ध सेवाओं में विस्तार भी किया जाएगा।